मुंबई मेट्रो का नहीं बढ़ेगा किराया, कोर्ट ने लगाई रोक

मुंबई, भाषा। एक ओर जहां दिल्ली के लोग मेट्रो का किराया बढ़ने से परेशान हैं वहीं बंबई हाईकोर्ट ने मुंबईवासियों को बड़ी राहत देते हुए वरसोवा-घाटकोपर मार्ग पर किराए की बढ़ोत्तरी पर रोक लगा दी है। रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर की अगुवाई वाली मुंबई मेट्रो किराए में बढ़ोत्तरी करने वाली थी।
मामले की सुनवाई मुख्य न्यायाधीश मंजुला चेल्लूर और न्यायमूर्ति एम एस सोनक की पीठ में हुई। पीठ ने मेट्रो किराया निर्धारण समिति के जुलाई 2015 के फैसले का खारिज कर दिया।
गौरतलब है कि समिति ने किराए बढ़ाए जाने की मंजूरी प्रदान की थी। किराए के दायरे को 10-40 से बढ़ाकर 10-110 रुपये करने की सिफारिश की गई थी।
पीठ ने सुनवाई के दौरान निर्देश दिया कि किराया निर्धारण समिति इस मामले को देखेगी व मेट्रो रेलवे (संचालन एवं प्रबंधन) अधिनियम के मुताबिक इसका पुनर्गठन किया जाएगा। मुख्य न्यायाधीश ने आशा जताई कि नई समिति किराए को लेकर चल रहे विवाद का तेजी से कम से कम तीन माह के भीतर निबटारा कर देगी।
काबिलगौर है कि वरसोवा-घाटकोपर लाइन पर किराया बढ़ाने के एमएमओपीएल के प्रस्ताव के खिलाफ महाराष्ट्र सरकार की एजेंसी मुम्बई मेट्रोपोलिटन क्षेत्र विकास प्राधिकरण सहित कई अन्य याचिकाकर्ताओं ने याचिकाएं दायर की थी। सोमवार को कोर्ट उनकी याचिका पर सुनवाई कर रही थी।

इसी तरह की खबर