मानव संसाधन मंत्रालय तैयार करेगा नि:सक्त बच्चों के लिए योजना

नई दिल्ली, भाषा।
भारत में सामान्य बच्चों की शिक्षा के साथ-साथ ऐसे बच्चों की शिक्षा पर भी सरकार जोर देना चाहती जो बच्चे नि:शक्त है। उन्हें विशेष सहायता और सहयोग की आवश्यकता होती है। ताकि वह सामान्य बच्चों के साथ स्कूलों में बिना किसी भेदभाव के पढ़ सकें।
मानव संसाधन मंत्रालय (एचआरडी) ने नि:सक्त बच्चों की पढ़ाई के लिए स्कूलों में उचित माहौल बनाने की के लिए कार्ययोजना करने जा रहा है। मंत्रालय द्वारा ‘चिल्ड्रन विद स्पेशल नीड’ पर एक दिसंबर को कार्यशाला आयोजन होगी। ताकि नि:सक्त बच्चों के लिए अनिवार्य और निशुल्क के शिक्षा के प्रावधान को लागू कर सके। विशेष रूप से बालिकाओं की शिक्षा पर विशेष ध्यान देना है।

इसी तरह की खबर