दलाई लामा ने कहा, प्राचीन ज्ञान को समझे युवा पीढ़ी

मुंबई, भाषा।
मुंबई के सौमैया स्कूल के छात्रों को संबोधित करते हुए तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा ने कहा, आप भारत का भविष्य हैं।

 

 

भारत अध्यात्मिक गुरु है। आपको आधुनिक शिक्षा प्राप्त करने के साथ भारत के प्राचीन ज्ञान को भी समझना चाहिए। मानसिक शांति के लिए आवश्यक है।

 

 

उन्होंने अपने संघर्षमय जीवन के बारे में बताया, जीवन में परेशानियों का सामना करने के लिए मानसिक रूप से कठोर होना चाहिए। मानसिक शांति जरूरी है। जिसका सीधा संबंध शरीर के स्वास्थ्य से है।

 

 

 

भारत लोकतांत्रिक देश है। भारत प्राचीन समय से विश्व में उजाला फैला रहा है। जब दुनिया ज्ञान रूपी अंधेरे में थी। आप महान भारत देश का भविष्य हो।

 

इसी तरह की खबर