जीवन का हिस्सा बनती डॉल

 

सिलिकॉन की गुड़िया के प्यार में पड़े जापानी

आजकल की भागमभाग जिंदगी में लोगों की लाइफस्टाइल बदल गई है। खाने-पीने के अलावा रहन-सहन की बदल गया है। लेकिन अब जीवन साथी भी बदल गए है। लड़कों को न तो गर्लफ्रेंड्स मिल पा रही हैं और न ही पत्नियां। बिना जीवनसाथी के लोग निराश हो रहे हैं। ऐसे लोगों की उम्मीद की किरण हैं सिलिकॉन सेक्सी डॉल।

सिलिकॉन सेक्सी डॉल अकेलापन को दूर कर रही हैं। साथ ही खुश दे रही हैं।

 

 

लोगों को जीवन साथी की कमी को दूर कर रही हैं। जापान में असली लगने वाली सेक्स डॉल बनती हैं। कई जापानी पुरुष केवल उन्हें खरीद कर इस्तेमाल ही नहीं कर रहे बल्कि उनके प्यार में पड़ रहे हैं।

ऐसे ही एक शख्स है सेनजी नाकाजिमा है। सेनजी नाकाजिमा शादीशुदा हैं। 2 बच्चों के पिता भी है। पारिवारिक कलह के कारण पत्नी से अलग रहते हैं। सेनजी ने सेक्स डॉल आर्डर खरीदी। पहले तो उनका मकसद अपनी वा

सना मिटाना था। धीरे-धीरे सिलिकॉन सेक्सी डॉल को अपना जीवन साथी बना लिया। जिस वह बहुत प्यार करते हैं। उनकी सेक्सी डॉल का नाम साओरी है।

उनका कहना है कि ‘डॉल इंसानों की तरह कोई अपेक्षा नहीं रखती। न ही ये कभी धोखा देगी और न ही मेरे पैसों के पीछे भागेगी। आज का इंसान निर्दयी और निर्मम है। उनसे अच्छी तो ये गुड़िया है।

सेनजी अब साओरी के साथ एक इंसान की तरह ही पेश आते हैं। उसे वह बाहर घुमाने ले जाते हैं। नहलाते हैं। हर सुबह उसके कपड़े बदलते हैं। दोनों साथ में फिल्म भी देखने जाते हैं। सेनजी के लिए ये सेक्स डॉल एक सिलिकॉन की गुड़िया नहीं, उनके सुख-दु:ख की साथी है।

जापान इन चायनीज सेक्स डॉल्स के लिए एक बड़ा मार्किट है।  ये ऐसे मटेरियल से बनाई जाती हैं, जिनका स्पर्श इंसान जैसा होता है।  कई अकेले, तनहा जापानी मर्द इन डॉल्स के साथ पब्लिक में देखे जाते हैं।  सेनजी अकेले नहीं हैं, जिन्होंने इन डॉल्स को अपना लाइफ पार्टनर बनाया है।

 

इसी तरह की खबर