क्या आपने देखा भारत का दूसरा स्वर्ग….

गर्मियों का मौसम चालू होते ही लोग पर्वतीय स्थानों की तरफ अपना रुख कर लेते हैं। ज्यादातर लोग विदशों के हिल स्टेशंस पर जाने का प्लान बनाते हैं पर , क्या आप जानते हैं की विदेशों जैसा अनुभव आपको अपने देश में भी मिल सकता है ?अगर नहीं , तो आइये आपको रूबरू कराते हैं एक ऐसी जगह से जिसे अगर हम स्वर्ग की उपमा दें तो कम नहीं होगा।
 हम बात कर रहे हैं केरल के एक हिल स्टेशन मुन्नार की जो जिला इडुक्की में स्थित है और खासकर अपने चाय के बागानों के लिए लोकप्रिय है। यहाँ हरवर्ष हजारों सैलानी अपनी भागदौड़ भरी जिंदगी और कोलाहल से दूर रहने के लिए कुछ समय बिताने को आते हैं।
बताते हैं की यहाँ पर तीन नदियों का संगम है जो की क्रमशः मुधीरपुझा , नलथन्नी और कुंडाली हैं।
मुन्नार 12000 हेक्टेयर में पहले चाय के बागानों का गढ़ है जहाँ से हर जगह चाय की चुस्कियों के लिए ताज़ी पत्तियों की आपूर्ति की जाती है मुन्नार के आसपास के पर्यटन स्थलों की बात करी जाये तो, इरविकुलम राष्ट्रीय उद्यान, आनामुढ़ी शिखर, माटूटपेट्टी, पल्लिवासल और चाय संग्रहालय आदि प्रमुख हैं
वहीं मुन्नार वन्य जीवन को भी बेहद करीब से दर्शाता है। एर्नाकुलम राष्ट्रीय उद्यान में कई दुर्लभ प्रजातियों के जीवों को देखा जा सकता है।
यहाँ पहुंचने के लिए निकटतम रेलवे स्टेशन एर्नाकुलम व अलुवा और निकटतम हवाई अड्डा मदुरई है।
मुन्नार अपने आप में ही स्वर्ग का अनुभव प्रदान करता है जहाँ जाकर कुछ पल ही सही आप अपनी परेशानियों और भागदौड़ भरी जिंदगी से दूर रह सकते हैं। मुन्नार का ट्रिप आपके जीवन को एक नया अनुभव प्रादान करेगा।