क्या आपका फोन हैक तो नहीं हो गया

मोबाइल फोन में आपकी निजी और महत्वपूर्ण जानकारियां होती हैं। जिसे आप किसी से शेयर नहीं करना चाहेंगे। जरा सोचिए अगर आपको पता चले कि आपका फोन हैक हो गया है। तो आप क्या करेंगे। आप चाहेंगे इस समस्या का समाधान जल्दी हो। हम आपको ऐसे संकेत बता रहे हैं जिससे आप पता लगा सकते हैं कि आपका फोन हैक हो गया।

कुछ ऐसे संकेत हैं जिससे आप पहचान सकते हैं कि आपका फोन हैक हो गया।

  1. फोन स्पीड कम होना : अगर आपके फोन की स्पीड सामान्य से कम हो रही है। तो आपका मोबाइल फोन वायरस प्रभावित हो सकता है। कोई मलीसियस प्रोग्राम से भी की वजह से भी मोबाइल की स्पीड कम हो सकती है। मेलिसियस प्रोग्राम यानी ऐसे प्रोग्राम जो फोन की परफॉर्मेंस और यूजर्स को नुकसान पहुंचा सकते हैं।
  1. फोन का काफी गरम होना : अगर आपका फोन कुछ ज्यादा ही गरम हो जाता है। संभव है कि आपके फोन में कोई मलीसियस ऐप्लीकेशन बैकग्राउंड में चल रहा हो।
  1. फोन द्वारा अज्ञात मैसेज करना :  कुछ मौकों पर फोन के हैक होने
     की जानकारी आपसे पहले आपके अपनों को मिल जाती है। कई बार आपके पास अंजान नंबर से मैसेज आते है। आपके फोन से अपने-आप चले जाते हैं। ये मैसेज आपने नहीं भेजे होते हैं।
  2. मोबाइल में कई विंडो का खुलना : कई बार ऐसे वायरस भी होते हैं, जो अचानक आपके फोन में खुलकर आ जाते हैं। कभी ये विज्ञापन की शक्ल में होते हैं तो कभी ये आपको नई विंडो या टैब में ले जाते हैं। कंप्यूटर की भाषा में इसे पॉप-अप्स कहते हैं।

 

  1. बैकग्राउंड की आवाज : इंटरनेट पर काम करते हुए कई बा
    र अजीब सी आवाज आने लगती है। वेब पेजों पर अनचाही और असामान्य चीजें दिखने लगती हैं।  क्योंकि हैकर आपकी डिवाइस को कंट्रोल कर रहा होता है।


मोबाइल हैंकिग का समाधान

भरोसेमंद कंपनी का एक एंटी-वायरस फोन में रखें,  जिन ऐप्स को आपने इंस्टॉल न किया हो, उन्हें डिलीट करें,  मुफ्त के वाई-फाई के चक्कर में हर जगह फोन को न जोड़ें] ऐसा पासवर्ड रखें, जिसका कोई अंदाजा न लगा सके, पॉप-अप्स पर भूलकर क्लिक मत करें,  डिवाइस को अपडेट रखें] इंटरनेट डाटा खर्च पर रखें नजर

 

 

 

 

 

इसी तरह की खबर